जब किसी कैंडल का रंग लाल होता है तो इसका मतलब होता है कि आलोच्य समयावधि में बंद होने का भाव खुलने के भाव से नीचे था। इसका मतलब उस समय के दौरान उस एसेट की कीमत में गिरावट आई।

Cryptocurrency Rate Today 6 December: जानें क्रिप्टो के बाजार का हाल और बिटकॉइन, इथेरियम सहित अन्य क्रिप्टो के रेट

By: ABP Live | Updated at : 06 Dec 2022 02:25 PM (IST)

Edited By: Meenakshi

क्रिप्टोकरेंसी (फाइल फोटो)

Cryptocurrency Rate Today 6 December: क्रिप्टकरेंसी के बाजार में आज तेजी देखी जा रही है और इसके ग्लोबल मार्केट कैप में कुछ सुधार देखा गया है. क्रिप्टोकरेंसी के रेट में आज बिटकॉइन 17,000 डॉलर के ऊपर चल रही है और इथेरियम 1260 डॉलर के ऊपर ट्रेड कर रही है. ग्लोबल मार्केट कैप की बात करें तो ये कुछ रिकवरी के साथ 854,345,106,174 डॉलर पर आ गया है. इसमें बिटकॉइन का हिस्सा 38.3 फीसदी पर है और इथेरियम का हिस्सा 18.1 फीसदी पर है.

ग्लोबल बाजार में क्रिप्टोकरेंसी के दाम
ग्लोबल बाजार में क्रिप्टोकरेंसी के दाम 17,009.75 डॉलर प्रति टोकन के रेट पर है. इसके 24 घंटे के दाम में 1.85 फीसदी का उछाल है और एक हफ्ते के रेट में 3.12 फीसदी की तेजी के साथ कारोबार हो रहा है.

क्रिप्टो चार्ट को कैसे पढ़े?

किसी ने भी जिसने क्रिप्टोकरेंसी में किसी भी तरह का निवेश किया है, वह जानता है कि क्रिप्टोकरेंसी का चार्ट रियल-टाइम में कितनी तेजी से लगातार बदलते रहता क्रिप्टोक्यूरेंसी ट्रेडिंग रणनीति है। इस एसेट की विख्यात वोलैटिलिटी के कारण कीमतों में जो भारी उतार-चढ़ाव दिखता है, वह भले ही सांसे थमाने वाला हो, लेकिन अपेक्षाकृत कम ही लोग ऐसे हैं जो वास्तव में समझ पाते हैं कि क्रिप्टोकरेंसी चार्ट को कैसे पढ़ा जाए और उससे भी कम लोग इस बात को सच में समझ पाते हैं कि चार्ट के आधार पर कैसे काम किया जाए, या उनसे मिलने वाले संकेतों को कैसे मुनाफे में बदला जाए।

चार्ट क्या है?

जो लोग ट्रेडिंग में नए हैं, उनके लिए क्रिप्टो चार्ट लाइन और कैंडलस्टिक पैटर्न का एक ऐसा समूह हैं जो क्रिप्टोकरेंसी का ऐतिहासिक प्राइस परफॉर्मेंस दिखाते हैं। ये बाजार की परिस्थितियों में होने वाले बदलावों और भविष्य के रुझानों का अनुमान लगाने में आपकी मदद कर सकते हैं, जिससे आपको निवेश के बेहतर फैसले लेने में मदद मिल सके।

संबंधित खबरें

निफ्टी, बैंक निफ्टी में बना रहे है निवेश की स्ट्रैटजी तो एक्सपर्ट के इन बताए आंकड़ों पर जरूर रखें ध्यान

Buzzing Stocks: आज सुर्खियों में रहने वाले अडानी एंटरप्राइजेज, बंधन बैंक, मैक्स फाइनेंशियल सर्विसेज और अन्य स्टॉक्स

Bulk Deals: मैक्स फाइनेंशियल सर्विसेज के प्रमोटर ने 400 करोड़ रुपये में 1.7% हिस्सेदारी बेची

यह एक स्नैपशॉट है, सेकेंड से लेकर मिनट, दिन, हफ्ते, महीने और यहां तक कि साल और उससे भी ज्यादा समय के दौरान हुए ऐतिहासिक और मौजूदा प्राइस मूमेंट का। क्रिप्टो चार्ट अप्रशिक्षित आंखों के लिए काफी जटिल मालूम पड़ सकते हैं, इसलिए बेहतर यही होगा कि इसके मूलभूत सिद्धांतों को समझ लिया जाए।

क्रिप्टोकरेंसी चार्ट ट्रेडिंग पेयर, अवधि और ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म का संकेत करते हैं। अमूमन, चार्ट हर समयावधि में खुलने, बंद होने, उस दौरान छुए गये सबसे ऊंचे और सबसे नीचे के भाव की जानकारी देते हैं। चार्ट के सबसे नीचे और बगल में तारीख और कीमतों में होने वाली वृद्धि दर्शाई जाती है।

Stock Market: शेयर मार्केट में बढ़त के साथ हुई शुरुआत, सेंसेक्स में 68 अंकों की हुई उछाल

Stock Market

Stock ‍Market: सेंसेक्स आज सुबह 68 अंकों की तेजी के साथ 61,406 पर खुला और ट्रेडिंग शुरू की, जबकि निफ्टी 19 अंक चढ़कर 18,288 पर खुला और कारोबार की शुरुआत हो गई। निवेशकों में पॉजिटिव सेंटिमेंट के बावजूद ग्‍लोबल मार्केट का दबाव देखा गया। यही कारण रहा कि सुबह 9.38 बजे सेंसेक्‍स 58 अंकों की बढ़त के साथ 61,395 पर कारोबार कर रहा था, जबकि निफ्टी 38 अंक चढ़कर 18,307 पर ट्रेडिंग कर रहा था।

शुरुआती कारोबार में पावरग्रिड, नेस्ले इंडिया, इंडसइंड बैंक, बजाज फाइनेंशियल सर्विसेज और आईसीआईसीआई बैंक में तेजी है. इन्फोसिस, सन फार्मा, टाटा मोटर्स और HDFC बैंक के शेयरों में गिरावट है।आज डॉलर के मुकाबले रुपया 6 पैसे की मजबूती के साथ 82.81 के स्तर पर खुला।

किस सेक्‍टर में ज्‍यादा होगी तेज़ी

आज के कारोबार को अगर सेक्‍टरवार देखें तो सबसे ज्‍यादा तेजी निफ्टी पीएसयू बैंक और मीडिया सेक्‍टर में देखने को मिली है। दूसरी ओर, निफ्टी ऑटो, आईटी और फार्मा सेक्‍टर में आज गिरावट है और ये सेक्‍टर करीब 1 फीसदी के नुकसान पर ट्रेडिंग जारी है। आज के कारोबार में निफ्टी स्‍मॉलकैप 100 और मिडकैप 100 पर भी 0.2 फीसदी की गिरावट हुई।

एशिया के ज्‍यादातर शेयर बाजारों में आज सुबह तेजी दिख गई है। सिंगापुर स्‍टॉक एक्‍सचेंज सोमवार सुबह 0.35 फीसदी की तेजी पर कारोबार कर रहा था, जबकि जापान का निक्‍केई 1.09 फीसदी गिरावट हुई। हांगकांग के शेयर बाजार में 1.30 फीसदी की तेजी है तो ताइवान में 0.43 फीसदी की गिरावट देखने को मिली। दक्षिण कोरिया के कॉस्‍पी पर भी 0.23 फीसदी का नुकसान हुआ है।

RSS से जुड़ा किसान संगठन सरकार का विरोध क्यों कर रहा है: दिन भर, 19 दिसंबर

Delhi farmers protest

कुमार केशव / Kumar Keshav

  • 19 दिसंबर 2022,
  • (अपडेटेड 19 दिसंबर 2022, 11:38 PM IST)

साल भर से कुछ ज़्यादा वक़्त हुआ है जब दिल्ली की सीमाओं पर कई किसान संगठन डेरा डाले हुए थे. सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के ख़िलाफ़. किसानों के लंबे आंदोलन के बाद सरकार को झुकना पड़ा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों क़ानून वापस लिए जाने की घोषणा कर दी. इसके बाद क्रिप्टोक्यूरेंसी ट्रेडिंग रणनीति ये आंदोलन समाप्त हो गया था. इसके बाद भी बीच बीच में कुछ मांगों को लेकर किसान संगठनों का दिल्ली मार्च होता रहा है. आज आरएसएस से जुड़े भारतीय किसान संघ क्रिप्टोक्यूरेंसी ट्रेडिंग रणनीति ने दिल्ली के रामलीला मैदान में गर्जना रैली का आयोजन किया.

GST मुक्त खेती की मांग कितनी सही

दावा किया गया कि देश के अलग-अलग हिस्सों से क़रीब 40 हज़ार किसान इस रैली में जुटे और केंद्र सरकार के सामने अपनी आवाज़ बुलंद की. तो आज किसानों की गर्जना रैली आयोजित करने के पीछे का मक़सद क्या था, क्या इन मांगों को लेकर सरकार से या सरकार के किसी मंत्री या प्रतिनिधि से पहले कोई बातचीत हुई है? इसके अलावा भारतीय किसान संघ की जो मांगें हैं, वो कितनी जायज और प्रैक्टिकल हैं, सुनिए 'दिन भर' की पहली ख़बर में.

भारतीय राजनीति में कई मुद्दे हैं जिनका ज़िक्र थोड़े-थोड़े वक्त के बाद होता रहता है और जब भी होता है तो एक हंगामा सा मच जाता है. ऐसा ही एक मुद्दा है सावरकर का.. किसी के लिए सावरकर वीर हैं तो किसी क्रिप्टोक्यूरेंसी ट्रेडिंग रणनीति के लिए कॉन्ट्रोवर्शियल, क्योंकि उन्होंने अंग्रेज़ों से माफ़ी मांगी. इन दिनों फिर से उनका नाम चर्चा में है और इस बार विवाद हुआ है कर्नाटक विधानसभा में उनकी तस्वीर लगाने से.

इम्पोर्ट होगा महंगा!

हाल ही में मिनिस्ट्री ऑफ़ फाइनेंस के हवाले से एक आंकड़ा सामने आया था. इसमें बताया गया कि अक्टूबर महीने में year-on-year भारत का एक्सपोर्ट 16 फीसदी से ज्यादा श्रिंक हुआ है. मतलब सिकुड़ा है, कम हुआ है. पिछले साल अक्टूबर में एक्सपोर्ट गुड्स की वैल्यू 35 बिलियन डॉलर से ज्यादा थी जो इस साल अक्टूबर में 30 बिलियन डॉलर से भी कम रह गई. ग्लोबल इकोनॉमी में आई सुस्ती और डिमांड की कमी को देखते हुए आगे भी स्थिति बहुत अच्छी रहेगी, ऐसा लगता नहीं है. अच्छा, इस दौरान इम्पोर्ट लगातार बढ़ने की वजह से ट्रेड डेफिसिट भी बढ़ा है. इस हालात से उबरने के लिए भारत सरकार ऐसे नॉन एसेंशियल प्रोडक्ट्स की लिस्ट तैयार कर रही है ताकि उन पर इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ा कर व्यापार घाटे को कम किया जा सके.

अक्टूबर में ही सरकार ने प्लैटिनम पर इंपोर्ट ड्यूटी को 10.75% से बढ़ाकर की 15.4% कर दिया था जिससे ये संकेत मिले थे कि आने वाले समय में इसे दूसरे प्रोडक्ट्स पर भी लागू किया जा सकता है. 2022-23 के बजट में भी सरकार ने हेडफोन, स्मार्ट मीटर जैसी कई चीज़ो पर इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाई थी.

फुटबॉल के फ्यूचर स्टार

क़तर के लुसैल स्टेडियम में रविवार और सोमवार की दरम्यानी रात जो कहानी लिखी गई, वो किसी परी कथा से कम नहीं. मेसी की टीम अर्जेंटीना ने कल एक साँसें थाम लेने वाले मुक़ाबले में फ्रांस को शिकस्त देकर इतिहास रचा. खेल शुरू होने के 70-75 मिनट बाद मामला एकतरफा लग रहा था, लेकिन फ्रांस के स्टार फुटबॉलर किलियन एमबाप्पे ने एक के बाद एक गोल दागकर मुक़ाबले में जान फूंक दी. और फिर जो हुआ वो दुनिया ने देखा. पेनाल्टी शूटआउट में मैच का नतीजा निकला और अर्जेंटीना का वर्ल्ड कप जीतने का सपना 36 साल बाद पूरा हुआ.

इस बेहद रोमांचक मैच के साथ फ़ीफ़ा वर्ल्ड कप 2022 का समापन भी हो गया. तो इस वर्ल्ड कप के बड़े टेकअवेज क्या रहे? कौन सी भ्रांतियां टूटीं और क्या नई बातें एस्टैब्लिश हुईं? कौन सी ऐसी टीमें हैं जिनमें इस गेम की महाशक्ति बनने की पोटेंशियल दिखती है और वो यंग प्लेयर्स जो अगले कुछ सालों में बड़े खिलाड़ी के तौर पर उभर सकते हैं, सुनिए 'दिन भर' की आख़िरी ख़बर में.

भारत के दिग्गज क्रिप्टो ट्रेडिंग क्रिप्टोक्यूरेंसी ट्रेडिंग रणनीति प्लेटफॉर्म्स | What are some of the crypto trading platforms in India

भारत के दिग्गज क्रिप्टो ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म्स

भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा 2018 में भारत में क्रिप्टोकरेंसी पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। हालांकि, पिछले साल सुप्रीम कोर्ट ने इस प्रतिबंध को हटा दिया था। यह भारतीय निवेशकों खासकर डिजिटल रूप से कुशल लोगों के लिए स्वागत योग्य कदम था। क्रिप्टो बाजार में निवेश और व्यापार में व्यस्त भारतीयों के साथ साथ क्रिप्टो ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म और बिटकॉइन एक्सचेंजों की बढ़ती संख्या इस बात की गवाही देती है।

रेटिंग: 4.96
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 455