Binomo पर ट्रेड करने के लिए, आपको बस अपना ईमेल पता दर्ज करना है या अपने Google खाते को Binomo ऐप से लिंक करना है, पासवर्ड सेट करना है, खाते के लिए करेंसी चुनना है, ग्राहक समझौते और गोपनीयता नीति की शर्तों को पढ़ना और उन्हें XM में डेमो अकाउंट कैसे खोलें स्वीकार करना है. इसके बाद, आप ट्रेड कर सकते/सकती हैं.

एक बार साइन-अप करने के बाद, ट्रेड से जुड़ी जानकारी देने वाला ट्यूटोरियल आपको Binomo प्लेटफॉर्म के बुनियादी फंक्शन से परिचित कराएगा. ट्रेड के अनुमान की कला सीखने और अपने ट्रेडिंग कौशल को निखारने के लिए, आपको वर्चुअल $1000 वाला एक मुफ्त डेमो अकाउंट मिलता है. यह एक ऐसा डेमो अकाउंट है जो आपको अपनी वास्तविक पूंजी को जोखिम में डालने से पहले ट्रेडिंग को आजमाने की सुविधा देता है.

Binomo की मदद से खोलें नए वित्तीय अवसरों के द्वार

Binomo एक सुरक्षित ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म है और अंतर्राष्ट्रीय वित्त आयोग का

Binomo एक सुरक्षित ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म है XM में डेमो अकाउंट कैसे खोलें और अंतर्राष्ट्रीय वित्त आयोग का "A" कैटगरी का सदस्य है.

पिछले एक दशक में ऐसी ऑनलाइन ट्रेडिंग वेबसाइटों में महत्वपूर्ण वृद्धि हुई है जो नए ट्रेडर के अलावा अनुभवी ट्रेडर को भी ए . अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated : January 29, 2022, 15:46 IST

मार्केट में नए जमाने के निवेश विकल्पों की भरमार होने से, ज्यादातर लोग पारंपरिक निवेश स्कीम जैसे कि बैंक फिक्स्ड डिपॉजिट के जरिए पैसे की सेविंग करने के बजाय ट्रेडिंग जैसे आधुनिक वित्तीय विकल्पों को अपना रहे हैं.

हमने पिछले कुछ वर्षों में टेक्नोलॉजी में एक जबर्दस्त तरक्की देखी है. बैंक में लंबी कतारों में खड़े होने और थकाऊ कागजी कार्रवाई करने से लेकर, ऐप के जरिए घर बैठे आराम से ऑनलाइन ट्रेडिंग करने तक हमने निवेश करने के तरीकों में भारी बदलाव देखा है.

पिछले एक दशक में ऐसी ऑनलाइन ट्रेडिंग वेबसाइटों में महत्वपूर्ण वृद्धि हुई है जो नए ट्रेडर के अलावा अनुभवी ट्रेडर को भी एक प्लेटफॉर्म प्रदान करती हैं. इसके अलावा, इनके जरिए आसानी से और बिना किसी झंझट के डिजिटल रूप से पेमेंट किए जा सकते हैं. इसलिए बहुत से लोग ऑनलाइन ट्रेडिंग को कमाई का नया जरिया बनाने के लिए उत्सुक हैं.

Binomo ऐसा ही आधुनिक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म है जिसने नए वित्तीय अवसरों के द्वार खोले हैं. आइए हम Binomo.com के बारे में और समझें कि आप इस प्लेटफॉर्म पर ट्रेडिंग कैसे शुरू कर सकते/सकती हैं.

Binomo क्या है?
Binomo उन नए ट्रेडर और विशेषज्ञों को एक ऑनलाइन ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म प्रदान करता है जो ट्रेडिंग में रुचि रखते हैं और अपने ट्रेडिंग कौशल को निखारना चाहते हैं. यह आपको, ऐप्लिकेशन XM में डेमो अकाउंट कैसे खोलें की मदद से कहीं से भी ट्रेड करने की सुविधा देता है. Binomo ऐप के एंड्रॉइड वर्शन को Google Play Store से या iOS वर्जन को Apple के App Store से डाउनलोड किया जा सकता है.

Binomo पर ट्रेडिंग, स्टॉक मार्केट की ट्रेडिंग से थोड़ी अलग है. Binomo XM में डेमो अकाउंट कैसे खोलें ट्रेडिंग, फिक्स्ड टाइम ट्रेड्स (एफटीटी) सिद्धांतों पर काम करती है, जिसे सटीक पूर्वानुमान के रूप में भी जाना जाता है. यहां, आप अनुमान लगा सकते/सकती हैं कि एक तय समय में किसी एसेट की कीमत बढ़ेगी या घटेगी. आपको अपने अनुमानों के आधार पर ही रिवॉर्ड मिलता है. अगर आपका अनुमान (यानी ट्रेड) सही है, तो आपको ट्रेड वैल्यू का 90% तक मिलेगा.

हालांकि, इस बात को ध्यान में रखा जाना जरूरी है कि सही अनुमान सही निर्णयों का नतीजा होते हैं. सही ट्रेडिंग निर्णय लेने के लिए, आपको चार्ट का विश्लेषण करने का तरीका सीखना होगा. साथ ही, प्रमुख इंडीकेटर और हर महत्वपूर्ण बात को समझना होगा. तार्किक विश्लेषण से ही सही अनुमान लगाए सकते हैं और इससे ही आप अतिरिक्त इनकम पा सकते हैं.

News18 Hindi

Binomo एक भरोसेमंद ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म है
Binomo एक सुरक्षित ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म है और अंतर्राष्ट्रीय वित्त आयोग का “A” कैटगरी का सदस्य है. यह वेरिफाई माई ट्रेड द्वारा प्रमाणित है और ग्लोबल फाइनेंस और मार्केट में उत्कृष्टता के लिए, इसे 2015 का FE अवार्ड और 2016 का IAIR अवार्ड भी मिल चुका है.

Binomo अपने उपयोगकर्ता के डेटा की सुरक्षा की परवाह करता है. इसीलिए यह प्लेटफॉर्म SSL प्रोटोकॉल का इस्तेमाल करता है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि पर्सनल और फाइनेंशियल यूज़र डेटा एन्क्रिप्टेड और सुरक्षित रहें.

Binomo प्लेटफॉर्म पर ट्रेड की शुरुआत कैसे की जा सकती है
Binomo प्लेटफॉर्म को इस मकसद से बनाया गया है, ताकि उपयोगकर्ताओं को इसके इस्तेमाल में आसानी हो और ऑनलाइन ट्रेडिंग को ठीक से समझा जा सके. इसके लिए, उपयोगकर्ता के मुताबिक सीधी व चरण-दर-चरण रजिस्ट्रेशन प्रोसेस बनाई गई है.

News18 Hindi

Binomo पर ट्रेड करने के लिए, आपको बस अपना ईमेल पता दर्ज करना है या अपने Google खाते को Binomo ऐप से लिंक करना है, पासवर्ड सेट करना है, खाते के लिए करेंसी चुनना है, ग्राहक समझौते और गोपनीयता नीति की शर्तों को पढ़ना और उन्हें स्वीकार करना है. इसके बाद, आप ट्रेड कर सकते/सकती हैं.

एक बार साइन-अप करने के बाद, ट्रेड से जुड़ी जानकारी देने वाला ट्यूटोरियल आपको Binomo प्लेटफॉर्म के बुनियादी फंक्शन से परिचित कराएगा. ट्रेड के अनुमान की कला सीखने और अपने ट्रेडिंग कौशल को निखारने के लिए, आपको वर्चुअल $1000 वाला एक मुफ्त डेमो अकाउंट मिलता है. यह एक ऐसा डेमो अकाउंट है जो आपको अपनी वास्तविक पूंजी को जोखिम में डालने से पहले ट्रेडिंग को आजमाने की सुविधा देता है.

ट्रेडिंग की कला में महारत हासिल करने के बाद मात्र ₹350 का निवेश करके डेमो अकाउंट से रीयल ट्रेडिंग अकाउंट में स्विच किया जा सकता है.

निष्कर्ष
ऑनलाइन ट्रेडिंग में स्मार्ट शुरुआत के लिए, Binomo के साथ ऑनलाइन निवेश करने वाले 20 लाख से अधिक लोगों की कम्यूनिटी में शामिल हों.

(यह लेख Binomo की ओर से स्टूडियो 18 द्वारा लिखा गया है.)

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ XM में डेमो अकाउंट कैसे खोलें वेबसाइट News18 हिंदी|

ऑनलाइन ऐसे खेलें Free Fire Game, डाउनलोड करने की भी जरूरत नहीं, फटाफट जानिए तरीका

Free Fire गेम मोबाइल प्लेटफॉर्म पर आकर अपनी शैली के टॉप गेम्स में से एक बनकर सामने आया है। गेम को विश्व स्तर पर काफी पसंद किया जाता है और इसमें बड़ा प्लेयर बेस है।

How to play online Free Fire Game

  1. सबसे पहले तो आपको अपने स्मार्टफोन पर गूगल प्ले स्टोर ऐप ओपन करना है और सर्च बार में Garena Free Fire सर्च करना है।
  2. उसके बाद आपको अपनी स्क्रीन पर दो ऑप्शन नजर आएंगे, ट्राई नाउ और इंस्टॉल करें पर क्लिक करें।
  3. ऑनलाइन डेमो खेलने के लिए यूजर्स को ट्राई नाउ बटन पर क्लिक करना होगा।
  4. यूजर्स को करीब दो मिनट के लिए एक छोटे से स्पेस में 6 अन्य बॉट्स के खिलाफ रखा जाएगा। BooYah के लिए उन्हें उन सभी को किल करना चाहिए।

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म. पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

कैसे करे CA फाउंडेशन की तैयारी – टिप्स एंड ट्रिक्स

कैसे करे CA फाउंडेशन की तैयारी – टिप्स एंड ट्रिक्स

CA फाउंडेशन CA कोर्स में प्रवेश लेने का पहला स्टेप है । CA फाउंडेशन की परीक्षा में बैठने के लिए आपको किसी भी बोर्ड से 12th अपीयर होना आवश्यक है । ICAI द्वारा कराई जाने वाली CA CPT की परीक्षा पहले पूरी तरह से ऑब्जेक्टिव होती थी। साल 2018 से ICAI द्वारा परीक्षा के पैटर्न में कुछ बदलाव किए गए हैं। तब से CA फाउंडेशन के 2 पेपर सब्जेक्टिव और 2 पेपर ऑब्जेक्टिव होते आ रहे हैं। CA फाउंडेशन की परीक्षा में आप तभी सफल हो पाएंगे जब पूरी तरह से मन लगाकर इसकी तैयारी करेंगे। आपको अपना सारा समय इसकी तैयारी में देना होगा। आज हम आपसे कुछ ऐसे टिप्स और ट्रिक्स साझा करेंगे जो आपको CA फाउंडेशन की परीक्षा में सफल होने में मदद करेंगे।

1- टाइमटेबल बनाएं

किसी भी परीक्षा में बैठने व उसकी तैयारी की शुरुवात करने से पहले ज़रूरी है कि आप एक टाइमटेबल बनाएं। अपने समय को इस प्रकार डिवाइड करें कि आपके चारों सब्जेक्ट कवर हो जाएं और आपको परीक्षा से पहले रिवीजन का टाइम भी मिले। ऐसा टाइमटेबल ना बनाएं जिसे आप फॉलो ना कर पाएं। परीक्षा से पहले के समय की प्रॉपर प्लानिंग बहुत ज़रूरी है। टाइमटेबल सिर्फ आपके समय को ही ऑर्गनाइज नहीं करेगा बल्कि आपको आपके वीक पॉइंट्स भी बताएगा। इस से आपको पता चलेगा आपको किस विषय में ज्यादा मेहनत की जरूरत है और किस विषय को आप आसानी से समझ पा रहे हैं।

2 – CA फाउंडेशन की कोचिंग ज्वाइन करें

अगर आपको लगता है आप सेल्फ स्टडी करके CA फाउंडेशन की परीक्षा में सफलता पा सकते तो अच्छी बात है। लेकिन हम आपको यही सुझाव देंगे की आप CA फाउंडेशन की तैयारी के लिए एक अच्छी कोचिंग ज्वाइन कर लें । बहुत सारे बच्चे CA फाउंडेशन में सेल्फ स्टडी करके पास तो हो जाते हैं लेकिन सिर्फ थोड़े से पासिंग मार्क्स लाकर। याद रहे CA कोर्स एक बहुत लंबा कोर्स है जिसके लिए महत्वपूर्ण है कि आपके बेसिक्स क्लियर हों जो कि एक अच्छे CA कोचिंग संस्थान जैसे मित्तल कॉमर्स क्लासेज को ज्वाइन करके ही होंगे। हमारे यहां हर एक बच्चे पर ध्यान दिया जाता है। उसकी कमियों को उसकी मजबूतियों में बदला जाता है। CA फाउंडेशन की परीक्षा में सफल होने के लिए बहुत ज़रूरी है आपको टीचर्स द्वारा प्रॉपर गाइडेंस मिले जो की आपको सिर्फ मित्तल कॉमर्स क्लासेज में मिल सकती है।

3 – कैलकुलेटर पर अपनी कमांड बनाएं

CA Foundation के दो मह्त्वपूर्ण सब्जेक्ट हैं – अकाउंटिंग और Mathematics, Statistics and Reasoning । इनमें आपको लंबी लंबी कैलकुलेशन करनी पड़ती है। बहुत महतत्वपूर्ण है कि आपकी कैलकुलेटर पर काम करने की अच्छी पकड़ हो। इस से आपका समय भी बचेगा और परीक्षा में आपको प्रश्न हल करने के लिए बाकी लोगों से ज्यादा समय मिल पाएगा। कैलकुलेटर की short keys सीखें। इस से आपका परीक्षा में भी समय बचेगा।

4 – लिख कर करें प्रैक्टिस

क्योंकि अब ICAI द्वारा परीक्षा का पैटर्न बदल दिया गया है और 2 पेपर सब्जेक्ट भी होंगे तो आपको लिख लिख कर प्रैक्टिस करने की भी ज़रूरत है। इस तरह प्रैक्टिस करने से आपकी लिखने की स्पीड भी तेज़ होगी जिस से आपको परीक्षा में फायदा मिलेगा। आपका समय भी बचेगा और आप पेपर को दुबारा चेक भी कर पाएंगे। लिख कर प्रैक्टिस करने से चीजें आपको अच्छे से याद रहेगी ।

5 – सॉल्व करें मॉक टेस्ट पेपर

मॉक टेस्ट पेपर सॉल्व करने से आपको परीक्षा के पैटर्न का अंदाज़ा लगा जाता है। इस से आप परीक्षा के समय में टाइम कैसे मैनेज करें ये भी सीखते हैं। टाइम मैनेजमेंट परीक्षा देते वक्त एक अहम भूमिका निभाता है। इस से आप अपनी पेपर सॉल्व करने की स्पीड भी एनालाइज कर सकते हैं और आपको कहां मेहनत की ज़रूरत है ये भी पता कर सकते हैं।

अगर आप इन सभी पॉइंट्स पर ध्यान देंगे और इन्हें अच्छे से फॉलो करेंगे तो आपको CA फाउंडेशन की परीक्षा में सफल होने से कोई नहीं रोक सकता।

कैसे करे CA फाउंडेशन की तैयारी – टिप्स एंड ट्रिक्स

कैसे करे CA फाउंडेशन की तैयारी – टिप्स एंड ट्रिक्स

CA फाउंडेशन CA कोर्स में प्रवेश लेने का पहला स्टेप है । CA फाउंडेशन की परीक्षा में बैठने के लिए आपको किसी भी बोर्ड से 12th अपीयर होना आवश्यक है । ICAI द्वारा कराई जाने वाली CA CPT की परीक्षा पहले पूरी तरह से ऑब्जेक्टिव होती थी। साल 2018 से ICAI द्वारा परीक्षा के पैटर्न में कुछ बदलाव किए गए हैं। तब से CA फाउंडेशन के 2 पेपर सब्जेक्टिव और 2 पेपर ऑब्जेक्टिव होते आ रहे हैं। CA फाउंडेशन की परीक्षा में आप तभी सफल हो पाएंगे जब पूरी तरह से मन लगाकर इसकी तैयारी करेंगे। आपको अपना सारा समय इसकी तैयारी में देना होगा। आज हम आपसे कुछ ऐसे टिप्स और ट्रिक्स साझा करेंगे जो आपको CA फाउंडेशन की परीक्षा में सफल होने में मदद करेंगे।

1- टाइमटेबल बनाएं

किसी भी परीक्षा में बैठने व उसकी तैयारी की शुरुवात करने से पहले ज़रूरी है कि आप एक टाइमटेबल बनाएं। अपने समय को इस प्रकार डिवाइड करें कि आपके चारों सब्जेक्ट कवर हो जाएं और आपको परीक्षा से पहले रिवीजन का टाइम भी मिले। ऐसा टाइमटेबल ना बनाएं जिसे आप फॉलो ना कर पाएं। परीक्षा से पहले के समय की प्रॉपर प्लानिंग बहुत ज़रूरी है। टाइमटेबल सिर्फ आपके समय को ही ऑर्गनाइज नहीं करेगा बल्कि आपको आपके वीक पॉइंट्स भी बताएगा। इस से आपको पता चलेगा आपको किस विषय में ज्यादा मेहनत की जरूरत है और किस विषय को आप आसानी से समझ पा रहे हैं।

2 – CA फाउंडेशन की कोचिंग ज्वाइन करें

अगर आपको लगता है आप सेल्फ स्टडी करके CA फाउंडेशन की परीक्षा में सफलता पा सकते तो अच्छी बात है। लेकिन हम आपको यही सुझाव देंगे की आप CA फाउंडेशन की तैयारी के लिए एक अच्छी कोचिंग ज्वाइन कर लें । बहुत सारे बच्चे CA फाउंडेशन में सेल्फ स्टडी करके पास तो हो जाते हैं लेकिन सिर्फ थोड़े से पासिंग मार्क्स लाकर। याद रहे CA कोर्स एक बहुत लंबा कोर्स है जिसके लिए महत्वपूर्ण है कि आपके बेसिक्स क्लियर हों जो कि एक अच्छे CA कोचिंग संस्थान जैसे मित्तल कॉमर्स क्लासेज को ज्वाइन करके ही होंगे। हमारे यहां हर एक बच्चे पर ध्यान दिया जाता है। उसकी कमियों को उसकी मजबूतियों में बदला जाता है। CA फाउंडेशन की परीक्षा में सफल होने के लिए बहुत ज़रूरी है आपको टीचर्स द्वारा प्रॉपर XM में डेमो अकाउंट कैसे खोलें गाइडेंस मिले जो की आपको सिर्फ मित्तल कॉमर्स क्लासेज में मिल सकती है।

3 – कैलकुलेटर पर अपनी कमांड बनाएं

CA Foundation के दो मह्त्वपूर्ण सब्जेक्ट हैं – अकाउंटिंग और Mathematics, Statistics and Reasoning । इनमें आपको लंबी लंबी कैलकुलेशन करनी पड़ती है। बहुत महतत्वपूर्ण है कि आपकी कैलकुलेटर पर काम करने की अच्छी पकड़ हो। इस से आपका समय भी बचेगा और परीक्षा में आपको प्रश्न हल करने के लिए बाकी लोगों से ज्यादा समय मिल पाएगा। कैलकुलेटर की short keys सीखें। इस से आपका परीक्षा में भी समय बचेगा।

4 – लिख कर करें प्रैक्टिस

क्योंकि अब ICAI द्वारा परीक्षा का पैटर्न बदल दिया गया है और 2 पेपर सब्जेक्ट भी होंगे तो आपको लिख लिख कर प्रैक्टिस करने की भी ज़रूरत है। इस तरह प्रैक्टिस करने से आपकी लिखने की स्पीड भी तेज़ होगी जिस से आपको परीक्षा में फायदा मिलेगा। आपका समय भी बचेगा और आप पेपर को दुबारा चेक भी कर पाएंगे। लिख कर प्रैक्टिस करने से चीजें आपको अच्छे से याद रहेगी ।

5 – सॉल्व करें मॉक टेस्ट पेपर

मॉक टेस्ट पेपर सॉल्व करने से आपको परीक्षा के पैटर्न का अंदाज़ा लगा जाता है। इस से आप परीक्षा के समय में टाइम कैसे मैनेज करें ये भी सीखते हैं। टाइम मैनेजमेंट परीक्षा देते वक्त एक अहम भूमिका निभाता है। इस से आप अपनी पेपर सॉल्व करने की स्पीड भी एनालाइज कर सकते हैं और आपको कहां मेहनत की ज़रूरत है ये भी पता कर सकते हैं।

अगर आप इन सभी पॉइंट्स पर ध्यान देंगे और इन्हें अच्छे से फॉलो करेंगे तो आपको CA फाउंडेशन की परीक्षा में सफल होने से कोई नहीं रोक सकता।

रेटिंग: 4.19
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 519